जम्मू-कश्मीर: डीआईजी के नाम से फेसबुक अकाउंट बनाकर चौकीदार ने लुधियाना की एक लड़की से सात लाख की ठगी की


जम्मू और कश्मीर पुलिस

जम्मू और कश्मीर पुलिस

विस्तार

सिंचाई विभाग के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी ने डीआईजी सांसद के नाम से फेसबुक एकाउंट बनाकर नौकरी दिलाने के नाम पर लुधियाना की एक छात्रा से सात लाख रुपये की ठगी की है. पुलिस ने युवती की ओर से मामला दर्ज कर आरोपी को सोमवार को अरनिया से हिरासत में ले लिया. उससे पूछताछ जारी है.

पुलिस के अनुसार लुधियाना निवासी अनुराधा ने शुक्रवार को बस स्टैंड स्थित थाने में मामला दर्ज कराया था. इसमें बताया गया कि अरनिया निवासी राजेश नाम के व्यक्ति ने खुद को डीआईजी बताकर नौकरी के नाम पर सात लाख रुपये लिए हैं.

वह खुद को मध्य प्रदेश में तैनात बताता है। अनुराधा ने पुलिस को बताया कि वह सिविल परीक्षा की तैयारी कर रही थी और फेसबुक के जरिए राजेश के संपर्क में आई थी। इसी बीच राजेश ने नौकरी करने की बात कही।

इसके एवज में सात लाख रुपये की मांग की। इसके बाद वह राजेश के खाते में राशि भेजती रही। राजेश कुछ हफ्तों से संपर्क में नहीं था। उस पर शक कर जम्मू पहुंचा।

उधर, युवती की शिकायत के बाद पुलिस ने उक्त फेसबुक अकाउंट की जांच की, जिसमें यह फर्जी पाया गया। आरोपी राजेश द्वारा पोस्ट की गई फोटो व अन्य साक्ष्यों के आधार पर पुलिस ने सोमवार को अरनिया से उसे हिरासत में ले लिया.

राजेश ने लुधियाना की युवती को नौकरी का झांसा दिया था। उससे सात लाख रुपए ठग लिए गए हैं। राजेश सिंचाई विभाग में चपरासी है। उसे हिरासत में ले लिया गया है। फेसबुक पर डीआईजी एमपी का अकाउंट बना था। ऐसे में युवती झांसे में आ गई। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। -सुनील केसर, डीएसपी, सिटी जम्मू



Source link

Leave a Comment